Course 3: मानसिक स्वास्थ्य और कल्याण को संबोधित करना

Course 3: मानसिक स्वास्थ्य और कल्याण को संबोधित करना

यह कोर्स कोविड-19 के मानसिक स्वास्थ्य पर प्रभाव को दर्शायेगा और बतायेगा की कैसे मनोसामाजिक सहायता प्रणालियों और कल्याण परिप्रेक्ष्य का संयोजन इस अत्यधिक विघटनकारी और तनावपूर्ण महामारी के प्रभावों को कम कर सकता है। हालांकि हो सकता है इस समय हमारा ध्यान शारीरिक स्वास्थ्य और स्वस्थ रहने पर अधिक हो, लेकिन यह महत्वपूर्ण है कि हम मानसिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं को दूर करने के महत्व को नजरअंदाज न करें, विशेष रूप से समुदायों में महामारी के संभावित दर्दनाक प्रभाव को देखते हुए और विशेष रूप से स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और अन्य अतिसंवेदनशील आबादी के लिए।


यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि जबकि यह पाठ्यक्रम मानसिक स्वास्थ्य और कल्याण पर कोविड-19 के प्रभाव का सामान्यीकृत अवलोकन प्रदान करता है, लेकिन देशों और संदर्भों में इस विषय पर मतभेद हैं। जनसंख्या के मानसिक स्वास्थ्य और मनोवैज्ञानिक आवश्यकताओं को संबोधित करने के लिए एक-आकार-सभी-में-फिट-बैठता-है वाला दृष्टिकोण नहीं होना चाहिए। इसलिए, कृपया इस पाठ्यक्रम का उपयोग एक मार्गदर्शक के रूप में करें, और आपके और आपके समुदाय की विशिष्ट आवश्यकताओं के लिए हमारे द्वारा यहां कवर की गई सामग्री को सर्वोत्तम रूप से अनुकूलित करने के लिए अपने संदर्भ के साथ खुद को परिचित करना जारी रखें।

सीखने के उद्देश्य

इस पाठ्यक्रम के अंत तक, आप निम्न कार्य कर सकेंगे:

  1. मानसिक स्वास्थ्य चुनौतियों का संचार करना जिनका विभिन्न समुदाय के सदस्यों और विशेष रूप से साथी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को इस उच्च-तनाव के समय सामना करना पड़ रहा है, जिसमें कुछ प्रभावों को कम करने के बिंदु भी शामिल हैं।
  2. स्व-देखभाल, मानसिक स्वास्थ्य और दोषारोप-हटाने जैसी गतिविधियों के लिए रणनीतियों और संसाधनों पर सलाह देना।
  3. कोविड -19 पीड़ित परिवारों और कोविड​​-19 से स्वस्थ होनेवाले मामलों को परामर्श के माध्यम से सबसे अच्छा समर्थन करने का तरीका समझना।
  4. रोगियों की सेवा के लिए कल्याण आधारित दृष्टिकोण का उपयोग करने का स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के लिए लाभ की पहचान करना।


नामांकन

कृपया कोविड-19 डिजिटल क्लासरूम ट्रैक पेज पर जाकर "जॉइन ट्रैक" क्लिक करके पाठ्यक्रम में दाखिला लें।